बीते दौर के एक्टर रतन चोपड़ा का हुआ निधन, गरीबी में बिताए आखिरी दिन!

बॉलीवुड के वेटेरन एक्टर रतन चोपड़ा का निधन हो गया है। वे कैंसर से पीड़ित थे। उनका निधन पंजाब के मलेरकोटला में शुक्रवार को हुआ। रतन चोपड़ा की बेटी अनीता ने उनकी मौत की खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि रतन कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे और उनके पास इलाज के लिए पैसे नहीं थे।
रतन के परिवार से जुड़े सूत्र की मानें तो उन्होंने 10 दिन पहले बॉलीवुड एक्टर धर्मेन्द्र, अक्षय कुमार और सोनू सूद से मदद की गुहार लगाई थी। हालांकि उन्हें किसी की मदद नहीं मिली। वे अपने आखिरी दिनों में पैसों के अभाव में रहे। वे अपने एरिया के लोकल गुरूद्वारे और मंदिरों से मिलने वाले खाने पर गुजारा कर रहे थे। रतन पिछले कुछ समय हरियाणा के पंचकुला के सेक्टर 26 में किराए के मकान में बसे थे।

इसी साल हुआ था कैंसर

बताया जा रहा है कि रतन चोपड़ा को इसी साल जनवरी के महीने में अपने कैंसर से पीड़ित होने के बारे में पता चला था। वे अविवाहित थे और स्कूल और कुछ अन्य इंस्टिट्यूट में अंग्रेजी पढ़ाते थे। रतन ने अपनी खुद की पढ़ाई पटियाला के चंडीगढ़ एंड पंजाब यूनिवर्सिटी से की थी। उनका असली नाम अब्दुल जब्बर खान था। उन्होंने अनीता नाम की एक लड़की को अडॉप्ट किया था।
रतन चोपड़ा ने साल 1972 में आई फिल्म मोम की गुड़िया में मुख्य किरदार निभाया था। इसमें उनके साथ एक्ट्रेस तनूजा भी थी। रतन ने अपने समय में ये दावा किया था कि उन्हें लोफर, आया सावन झूम के और जुगनू जैसी फिल्मों के ऑफर मिले थे। इन सभी को उन्होंने अपनी दादी के जोर डालने पर ठुकरा दिया था। रतन की दादी उनके फिल्मी करियर के खिलाफ थीं। इसलिए उनपर बॉलीवुड को छोड़ने का प्रेशर बनाया गया था और बाद में उन्होंने इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया था।