सामने आया इमरान खान का 'नापाक' चेहरा, संसद में आतंकी ओसामा बिन लादेन को बताया शहीद!

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भरी संसद में अलकायदा के सरगना रहे आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को शहीद बताया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ जंग में अमेरिका का साथ नहीं देना चाहिए था।
इमरान ने कहा कि अमेरिकी सेना ने पाकिस्तान में घुसकर लादेन को शहीद कर दिया और पाकिस्तान को बताया भी नहीं। इसके बाद पूरी दुनिया ने पाकिस्तान को भला-बुरा कहना शुरू कर दिया, जिससे देश को शर्मिंदा होना पड़ा।

अमेरिका का साथ देकर अपने 70 हजार लोग खोए- इमरान

इमरान ने कहा कि पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ जंग में अमेरिका का साथ देकर अपने 70 हजार लोगों को खो दिया। विदेशों में रहने वाले पाकिस्तानियों को शर्मिंदगी झेलनी पड़ी। 2010 के बाद पाकिस्तान में ड्रोन अटैक हुए और सबने सिर्फ निंदा की।

2011 में मारा गया था ओसामा

ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान के एबटाबाद में 2 मई 2011 को मारा गया था। अमेरिकी के सुरक्षा बलों ने एक स्पेशल ऑपरेशन के जरिए उसे पाकिस्तान में घुसकर मारा था। लादेन अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर आतंकी हमले का दोषी था। लादेन के शव को समुद्र में दफना दिया गया था।

पाकिस्तान मिलिट्री बेस के पास ही ठिकाना था

आईएसआई डाइरेक्टर जनरल अहमद शुजा पाशा को आईएसआई के महानिदेशक अहमद शुजा पाशा को लादेन की मौजूदगी का पता था। पाकिस्तान सरकार पर लादेन को पनाह देने के आरोप लगे थे। एबटाबाद में जिस जगह पर लादेन छिपा था, वहां से एक मील से भी कम दूरी पर ही पाकिस्तान का मिलिट्री बेस था।