सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई और बीजेपी विधायक नीरज सिंह बबलू का आरोप- कुछ बड़े लोगों का काम, अभी नहीं बताऊँगा नाम!

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद बॉलिवुड के अंदर और बाहर लोग इसके लिए एक खास वर्ग को जिम्मेदार मान रहे हैं। लोगों का आरोप है कि नेपोटिजम के चलते सुशांत पर इतना दवाब बना दिया गया कि उन्हें आत्महत्या जैसा कदम उठाना पड़ा। अब इस बीच सुशांत के चचेरे भाई और बीजेपी एमएलए नीरज सिंह बबलू ने भी कुछ ऐसे ही आरोप लगाए हैं।
बॉलिवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद फिल्म इंडस्ट्री में बवाल बढ़ता नजर आ रहा है। सुशांत जैसे तेजी से आगे बढ़ते और टैलंटेड ऐक्टर की मौत के लिए एक बड़ा वर्ग फिल्म इंडस्ट्री में फैले भाई-भतीजावाद (नेपोटिजम) को जिम्मेदार ठहरा रहा है। अब बॉलिवुड के सिलेब्स, डायरेक्टर और प्रड्यूसर भी इस बहस में दो खेमों में बंट गए हैं। इस बीच सुशांत के चचेरे भाई और बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह बबलू ने भी फिल्म इंडस्ट्री के लोगों पर इस घटना का जिम्मेदार होने का आरोप लगाया है।
बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह बबलू सुशांत के परिवार के साथ उनकी अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए बिहार से मुंबई पहुंचे हैं। मंगलवार को बांद्रा पुलिस स्टेशन में पहुंचे नीरज ने कहा, 'सुशांत सिंह राजपूत फिल्म इंडस्ट्री में जहां 10 साल में पहुंच गए, बॉलिवुड में बहुत सारे लोग उस मुकाम तक नहीं पहुंच पाए हैं। काफी बड़े-बड़े लोग हैं जो इतनी शोहरत नहीं पा सके हैं जितनी सुशांत ने पाई है।'

'कुछ बड़े लोगों ने बनाया सुशांत पर दबाव'

नीरज बबलू ने सुशांत की आत्महत्या के लिए बॉलिवुड के कुछ लोगों को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा, 'जो लोग सुशांत के पाए मुकाम तक नहीं पहुंच सके उन्हें जलन थी और बॉलिवुड के कुछ लोगों ने इतना दवाब बना दिया कि सुशांत को यह कदम उठाना पड़ा।' हालांकि जब नीरज से बॉलिवुड के इन लोगों का नाम पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इसमें कुछ बड़े लोगों के नाम शामिल हैं जिन्हें वह अभी नहीं लेंगे।

राज्य सरकार ने मानी जांच की मांग

बता दें कि सुशांत की आत्महत्या के बाद से ही धमेंद्र, कंगना रनौत, शेखर कपूर, मीरा चोपड़ा, रजत बरमेचा, रणवीर शौरी, सपना भवानी और निखिल द्विवेदी जैसे कई बड़े नामों ने सुशांत की आत्महत्या के बाद इंडस्ट्री में भेदभाव पर सवाल उठाए हैं। इसके अलावा 'दबंग' के डायरेक्टर रहे अभिनव सिन्हा ने भी बॉलिवुड में होने वाले भेदभाव पर सलमान खान और उनकी फैमिली पर सनसीखेज आरोप लगाए हैं। बढ़ते दवाब के बीच महाराष्ट्र सरकार ने जांच की मांग मान ली है। महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के मुताबिक, सुशांत की पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट में फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या की बात है। उन्‍होंने मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से कहा कि प्रोफेशनल रायवलरी के चलते सुशांत के डिप्रेशन में होने की बात सामने आई है। देशमुख के मुताबिक, मुंबई पुलिस इस ऐंगल पर भी जांच करेगी।